मोकामा में 40 वर्षों बाद आयोजित होगा राम सिया विवाह महोत्सव  

मोकामा में 40 वर्षों बाद आयोजित होगा राम सिया विवाह महोत्सव । (Ram Siya marriage festival will be organized in Mokama after 40 years)

बिहार।पटना।मोकामा। मोकामा के पवित्र गंगा तट पर लगभग 40 सालों बाद एक बार फिर राम विवाह का आयोजन किया जा रहा है । भव्य राम विवाह महोत्सव को लेकर राम विवाह समिति की कई दौर की बैठक हो चुकी है ।महोत्सव को अंतिम रूप दिया जा रहा है। जगतगुरु शंकराचार्य वासुदेवानंद सरस्वती, महामंडलेश्वर स्वामी विद्यानंद सरस्वती, महंत वृन्दावन दास महाराज जी ,स्वामी भुवनेश्वर वशिष्ठ जी महाराज सहित कई विद्वजन भी इस महोत्सव का हिस्सा बनेंगे। कार्यकर्ताओं का समूह घूम घूम कर इस राम विवाह में शामिल होने के लिए श्रद्धालुओं को आमंत्रित कर रहे हैं। (Ram Siya marriage festival will be organized in Mokama after 40 years)

मोकामा ऑनलाइन की वाटस ऐप ग्रुप से जुड़िये और खबरें सीधे अपने मोबाइल फ़ोन में पढ़िए ।

Ram Siya marriage festival will be organized in Mokama after 40 years
विज्ञापन

राम विवाह समिति ने यह सुनिश्चित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है कि यह भव्य आयोजन सभी उम्मीदों से बेहतर हो(Ram Vivah Committee has left no stone unturned to ensure that this grand event exceeds all expectations)

राम विवाह समिति ने यह सुनिश्चित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है कि यह भव्य आयोजन सभी उम्मीदों से बेहतर हो।बलिया के पूर्व सांसद सूरजभान सिंह, मुंगेर की पूर्व सांसद वीणा देवी और नवादा के वर्तमान सांसद चन्दन सिंह व्यक्तिगत रूप से राम विवाह की तैयारियों पर नजर रखे हुए हैं।लोजपा के युवा नेता कन्हैया सिंह ने बताया की यह त्योहार, जो भगवान राम और देवी सीता के दिव्य मिलन का प्रतीक है, राम भक्तों के लिए अत्यधिक महत्व रखता जगतगुरु शंकराचार्य वासुदेवानंद सरस्वती, महामंडलेश्वर स्वामी विद्यानंद सरस्वती, महंत वृन्दावन दास महाराज जी ,स्वामी भुवनेश्वर वशिष्ठ जी महाराज जैसे श्रद्धेय विद्वानों के आशीर्वाद से, राम विवाह महोत्सव एक ऐसा आध्यात्मिक उत्सव होने वाला है जो मोकामा की धरा को पवित्र कर रहे हैं । इन विद्वान संतों ने भगवान राम की शिक्षाओं के प्रसार के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया है और वे अपने गहन ज्ञान के लिए पूजनीय हैं। (Ram Siya marriage festival will be organized in Mokama after 40 years)

दिनांक 13 /12/23 को सुबह 7 बजे भव्य कलश यात्रा निकलेगी जो पुरे नगर का भ्रमण करेगी(A grand Kalash Yatra will take place on 13/12/23 at 7 am which will tour the entire city.)

जैसे-जैसे तैयारियां अपने अंतिम चरण में पहुंच रही हैं, समर्पित कार्यकर्ताओं के समूहों को दूर-दूर तक भक्तों को हार्दिक निमंत्रण देते हुए, एक स्थान से दूसरे स्थान पर अथक रूप से जाते देखा जा सकता है। उनका उत्साह चरम पर है क्योंकि वे उत्साहपूर्वक घटना की भव्यता का वर्णन कर रहे हैं और प्राचीन परंपराओं को पुनर्जीवित करने में इसके महत्व पर जोर देते हैं। (Ram Siya marriage festival will be organized in Mokama after 40 years)

मोकामा में गंगा के तटों को जीवंत सजावट, रंगीन रोशनी और जटिल फूलों की सजावट से सजाया जा रहा है(The banks of Ganga in Mokama are being decorated with vibrant decorations, colorful lights and intricate flower arrangements)

मोक में गंगा का पवित्र तट पतित पाविनी माँ गंगा के तट पर होगा राम विवाह महोत्सव का भव्य आयोजन, 13 से 21 दिसम्बर तक चलेगा रामायण मेला।मोकामा के वार्ड न. 17 में अव्स्तिथ सूर्य नारायण मंदिर इस महोत्सव का गवाह बनेगा।भगवान राम और देवी सीता के दिव्य विवाह का उत्सव, राम विवाह महोत्सव का भव्य आयोजन पवित्र गंगा नदी के सुरम्य तट पर आयोजित किया जाएगा। यह शुभ अवसर 13 से 21 दिसंबर तक चलने वाले रामायण मेले के दौरान होगा। (Ram Siya marriage festival will be organized in Mokama after 40 years)

भगवान राम के जीवन और शिक्षाओं के महत्व के बारे में बताने के लिए प्रसिद्ध विद्वानों द्वारा विभिन्न धार्मिक प्रवचन, भजन पाठ और आध्यात्मिक व्याख्यान आयोजित किए जाएंगे(Various religious sermons, bhajan recitations and spiritual lectures will be conducted by renowned scholars to tell about the importance of the life and teachings of Lord Rama.)

इस नौ दिवसीय मेले के दौरान, देश भर से भक्त भगवान राम और देवी सीता के विवाह समारोह को देखने के लिए मोकामा पहुँचने वाले हैं । मोकामा में गंगा के तटों को जीवंत सजावट, रंगीन रोशनी और जटिल फूलों की सजावट से सजाया जा रहा है , जो उत्सव के लिए एक मंत्रमुग्ध कर देने वाला माहौल तैयार करेगा।राम विवाह महोत्सव का उद्देश्य न केवल भगवान राम और देवी सीता के दिव्य मिलन का जश्न मनाना है बल्कि इसमें उपस्थित लोगों के बीच एकता, सद्भाव और आध्यात्मिक ज्ञान को बढ़ावा देना भी है। भक्तों को भगवान राम के जीवन और शिक्षाओं के महत्व के बारे में बताने के लिए प्रसिद्ध विद्वानों द्वारा विभिन्न धार्मिक प्रवचन, भजन पाठ और आध्यात्मिक व्याख्यान आयोजित किए जाएंगे।दिनांक 13 /12/23 को सुबह 7 बजे भव्य कलश यात्रा निकलेगी जो पुरे नगर का भ्रमण करेगी इसके लिए हजारों महिला श्रद्धालु रजिस्ट्रेशन करवा रही हैं। इसी समय यज्ञ के लिए पवित्र अग्नि देव का मन्त्रों से आवाहन किया जायेगा।अग्नि प्रज्वल्लित होने के बाद यग्य की आहुति प्रारम्भ होगी और श्रद्धालु यज्ञ भूमि की परिक्रमा भी कर सकेंगे ।दोपहर 2 बजे से संतों के मुखारविंद से राम कथा प्रारम्भ हो जाएगी। संध्या 5 बजे से गंगा महाआरती का आयोजन होगा जिसमें बनारस के पंडितों द्वारा पुरे मंत्रों चार के साथ माँ गंगा की पूजा आरती की जाएगी। (Ram Siya marriage festival will be organized in Mokama after 40 years)

मोकामा ऑनलाइन के इन्स्टाग्राम पर हमसे जुड़िये ।

Ram Siya marriage festival will be organized in Mokama after 40 years
विज्ञापन

देश और दुनिया की इस तरह के अन्य खबरों को जानने के लिए मोकामा ऑनलाइन डॉट कॉम के अतिरिक्त हमारे सोशल मीडिया प्लेटफार्म फेसबुक ,ट्विटर ,इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर हमे फॉलो करें।

ये भी पढ़ें:-राम मंदिर के भक्तों के लिए अयोध्या में 10 अवश्य घूमने योग्य स्थान

ये भी पढ़ें:-भारतीय राजनीति में 6 सबसे प्रभावशाली महिलाएं

। (School decorated with colorful informative paintings)

बिहार।पटना।मोकामा। रंग बिरंगी ज्ञानवर्धक पेंटिंग से मध्य विद्यालय हथिदह को सुसज्जित किया गया है ।मोकामा के सरकारी विद्यालय में शिक्षा के कई मनमोहक पेंटिंग बनाये जा रहे हैं जो बच्चों को सीखने के लिए प्रेरित करती है । जीवंत और आकर्षक पेंटिंग्स हर गलियारे और क्लास की दीवारों पर सजी हुई है , जो सादे और नीरस स्कूल भवन में जीवन भर रही है । पेंट के प्रत्येक स्ट्रोक ने शिक्षा के एक अलग पहलू को दर्शाया, जिसमें सीखने के सार को आकर्षक तरीके से दर्शाया गया। (School decorated with colorful informative paintings)

मोकामा ऑनलाइन की वाटस ऐप ग्रुप से जुड़िये और खबरें सीधे अपने मोबाइल फ़ोन में पढ़िए ।

School decorated with colorful informative paintings
विज्ञापन

कई महत्वपूर्ण सिद्धांत दीवारों पर लिखे गये हैं जो छात्रों को अच्छे और सुंदर जीवन को अपनाने के लिए प्रेरित करता है(Many important principles are written on the walls which inspire the students to adopt good and beautiful life.)

एक पेंटिंग में छात्रों के एक समूह को पढने में तल्लीन दिखाया गया, उनके चेहरे जिज्ञासा और उत्साह से चमक रहे हैं । यह सीखने की प्रक्रिया में सहयोग और सक्रिय भागीदारी के महत्व का प्रतीक है। एक अन्य पेंटिंग में एक बच्चे स्कुल जाते दिखाई दे रहे हैं।कई महत्वपूर्ण सिद्धांत दीवारों पर लिखे गये हैं जो छात्रों को अच्छे और सुंदर जीवन को अपनाने के लिए प्रेरित करता है। (School decorated with colorful informative paintings)

इस कलाकृति का उद्देश्य छात्रों के बीच स्वीकृति और सम्मान को बढ़ावा देना है(The purpose of this artwork is to promote acceptance and respect among students)

जैसे ही कोई विद्यालय के हॉल से गुज़रता था, उसे ऐसी कई रंग बिरंगी पेंटिंग्स दिखाई देती थीं जो शिक्षा और ज्ञान की अलख जगाती दिखाई दे रही थीं। एक उत्कृष्ट कृति में विभिन्न सांस्कृतिक पृष्ठभूमि के बच्चों को एक-दूसरे का हाथ थामे हुए, विविधता के बीच एकता का प्रतिनिधित्व करते हुए दर्शाया गया है। इस कलाकृति का उद्देश्य छात्रों के बीच स्वीकृति और सम्मान को बढ़ावा देना, उन्हें विभिन्न दृष्टिकोणों और अनुभवों की सराहना करने के लिए प्रोत्साहित करना है।मोकामा का यह सरकारी स्कूल अपने सभी छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने की प्रतिबद्धता के लिए प्रसिद्ध हो रहा है । रंगीन पेंटिंग केवल सजावटी तत्व नहीं थीं बल्कि शक्तिशाली शैक्षिक उपकरण के रूप में काम कर रही है । (School decorated with colorful informative paintings)

मोकामा ऑनलाइन के इन्स्टाग्राम पर हमसे जुड़िये ।

School decorated with colorful informative paintings
विज्ञापन
School decorated with colorful informative paintings
विज्ञापन

देश और दुनिया की इस तरह के अन्य खबरों को जानने के लिए मोकामा ऑनलाइन डॉट कॉम के अतिरिक्त हमारे सोशल मीडिया प्लेटफार्म फेसबुक ,ट्विटर ,इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर हमे फॉलो करें।

ये भी पढ़ें:-राम मंदिर के भक्तों के लिए अयोध्या में 10 अवश्य घूमने योग्य स्थान

ये भी पढ़ें:-भारतीय राजनीति में 6 सबसे प्रभावशाली महिलाएं

error: Content is protected !!