चाचा नितीश को रंगबदलू किसने दिया नाम  

चाचा नितीश को रंगबदलू किसने दिया नाम । (Who gave the name Rangbadlu to uncle Nitish?)

बिहार।पटना।मोकामा।नीतीश कुमार 2017 में महागठबंधन सरकार छोड़ कर बीजेपी की एनडीए में वापस आए थे, तब RJD सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने उन्हें एक नाम दिया था “पलटूराम”। इसके बाद नीतीश कुमार जब 9 अगस्त 2022 को दोबारा RJD के साथ गए, तो बीजेपी ने भी उन पर इसी नाम से हमला किया। एक बार फिर जब नीतीश कुमार ने पिछले महीने RJD को दूसरी बार त्याग कर BJP के साथ सरकार बना ली, तो फिर से उन पर लालू प्रसाद यादव का परिवार हमलावर है। (Who gave the name Rangbadlu to uncle Nitish?)

मोकामा ऑनलाइन की वाटस ऐप ग्रुप से जुड़िये और खबरें सीधे अपने मोबाइल फ़ोन में पढ़िए ।

Who gave the name Rangbadlu to uncle Nitish?
विज्ञापन

“पलटूराम” शब्द नीतीश कुमार की राजनीतिक पलटी और गठबंधन बदलने का पर्याय बन गया है (The word “Palturam” has become synonymous with Nitish Kumar’s political reversal and change of alliance.)

“पलटूराम” शब्द नीतीश कुमार की राजनीतिक पलटी और गठबंधन बदलने का पर्याय बन गया है। यह इस धारणा को उजागर करता है कि वह एक सुसंगत विचारधारा या उन लोगों के प्रति प्रतिबद्धता पर टिके रहने के बजाय अपने राजनीतिक हितों के आधार पर पक्ष बदलते हैं।वह लोग अपने को ठगा हुआ महसूस करते हैं जिन्होंने उन्हें वोट दिया था।लालू प्रसाद यादव द्वारा शुरू में इस नाम का इस्तेमाल नीतीश कुमार के अवसरवादी व्यवहार का मज़ाक उड़ाने के लिए किया गया था। उन्हें “पलटूराम” का नाम देकर, लालू प्रसाद यादव का उद्देश्य नीतीश कुमार को ऐसे व्यक्ति के रूप में चित्रित करना था जिस पर भरोसा नहीं किया जा सकता है और जो व्यक्तिगत लाभ के लिए अपने सहयोगियों को छोड़ने को तैयार है। (Who gave the name Rangbadlu to uncle Nitish?)

सीएम नीतीश कुमार को ‘रंगबदलू’ का नाम दिया है।(CM Nitish Kumar has been named ‘Rangbadlu’)

जब 2022 में नीतीश कुमार राजद के साथ फिर से शामिल हो गए, तो भाजपा ने उसी नाम का उपयोग करके उन पर हमला करने का अवसर जब्त कर लिया। उन्होंने उन पर राजनीतिक अवसरवादी होने और ईमानदारी की कमी का आरोप लगाया, यह सुझाव देते हुए कि उनके कार्य लोगों के हितों की सेवा करने के बजाय पूरी तरह से सत्ता बनाए रखने की इच्छा से प्रेरित थे।अब जब नीतीश कुमार एक बार फिर से राजद छोड़कर बीजेपी के साथ सरकार बना चुके हैं तो नीतीश कुमार पर इसी कड़ी में एक नया हमला हुआ है। यही नहीं लालू परिवार के इस सदस्य ने उन्हें एक नया नाम भी दे दिया है। ये नाम लालू प्रसाद यादव की सिंगापुर वाली बेटी रोहिणी आचार्य ने दिया है। उन्होंने सीएम नीतीश कुमार को ‘रंगबदलू’ का नाम दिया है।नीतीश कुमार पर यह हालिया हमला, रोहिणी आचार्य द्वारा उन्हें दिए गए नए नाम के साथ, बिहार के राजनीतिक परिदृश्य के भीतर चल रहे राजनीतिक तनाव और व्यक्तिगत दुश्मनी को उजागर करता है। राजनीति में अपमानजनक नामों और व्यक्तिगत हमलों का उपयोग असामान्य नहीं है, लेकिन यह रचनात्मक संवाद की कमी और वास्तविक मुद्दों को संबोधित करने के बजाय चरित्र हत्या पर ध्यान केंद्रित करने को दर्शाता है। (Who gave the name Rangbadlu to uncle Nitish?)

नाम-पुकारने की इस रणनीति का उद्देश्य सीएम नीतीश कुमार की विश्वसनीयता को कम करना और उन्हें एक अवसरवादी राजनेता के रूप में चित्रित करना है ।(This name-calling strategy is aimed at undermining the credibility of CM Nitish Kumar and portraying him as an opportunistic politician)

रोहिणी आचार्य द्वारा गढ़ा गया शब्द ‘रंगबदलू’ हिंदी शब्दों “रंग” (रंग) और “बदलू” (स्थानांतरण या परिवर्तन) को मिलाकर बनाया गया शब्द प्रतीत होता है। इससे पता चलता है कि नीतीश कुमार ऐसे व्यक्ति हैं जो व्यक्तिगत लाभ के लिए अपना रंग या सिद्धांत बदलते हैं। नाम-पुकारने की इस रणनीति का उद्देश्य उनकी विश्वसनीयता को कम करना और उन्हें एक अवसरवादी राजनेता के रूप में चित्रित करना है। (Who gave the name Rangbadlu to uncle Nitish?)

मोकामा ऑनलाइन के इन्स्टाग्राम पर हमसे जुड़िये ।

Who gave the name Rangbadlu to uncle Nitish?
विज्ञापन

देश और दुनिया की इस तरह के अन्य खबरों को जानने के लिए मोकामा ऑनलाइन डॉट कॉम के अतिरिक्त हमारे सोशल मीडिया प्लेटफार्म फेसबुक ,ट्विटर ,इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर हमे फॉलो करें।

ये भी पढ़ें:-राम मंदिर के भक्तों के लिए अयोध्या में 10 अवश्य घूमने योग्य स्थान

ये भी पढ़ें:-भारतीय राजनीति में 6 सबसे प्रभावशाली महिलाएं

error: Content is protected !!